HomeMaa Shayari in hindiMaa Shayari, Best Maa Hindi Shayari, 30+ माँ शायरी हिन्दी में

Maa Shayari, Best Maa Hindi Shayari, 30+ माँ शायरी हिन्दी में

Maa Shayari

हम आपके लिये लाये हैं Maa Shayari, ईश्वर की सबसेप्यारी रचना है माँ, सिर्फ माँ शब्द पुरी की पुरी दुनिया है, 
जीवन की सुरूआत ही माँ से होती है| माँ से प्यारा कोइ नही माँ जैसा बड़ा दिल किसी का नही
माँ नही तो दुनिया नही, इक माँ अपने बच्चों के लिये सारी दुनिय् से लड़ सकती है
माँ की ममता सबसे अनमोल हैै | मैने भी आप सभी के लिये कुछ ऐसी ही माँ पर शायरी
लिखने की कोशिस की है, मुझे बिश्वास है कि आपको जरूर पसंद आयेगी क्योकी ये माँ पर जो है |

|| Maa ka pyaar ||

Maa ke pyaar ke aage
Duniya ka pyaar fika hai
Maa ka pyaar pakar
Insane jiwan me kamyab hota hai
माँ के प्यार के आगे
दुनिया का प्यार फिका है
माँ का प्यार पाकर
इन्सान जीवन में कामयाब होता है

|| Maa hai to jahan hai ||

Maa hai to jahan hai
Maa se hi banata ek pyaara
Ashiyan hai
Maa ka jiwan apane bacho par fida hai
माँ है तो जहान है
माँ से ही बनता एक प्यारा आसियाँ है
माँ का जीवन अपने बच्चों पर फिदा है

|| Maa meri mandir hai ||

Maa meri mandir hai
Maa hi meri pooja
Maa se hi juda
Mere jiwan ki naiya hai
माँ मेरी मन्दिर है माँ ही मेरी पूजा
माँ से ही जुड़ा मेरे जीवन की नैया है
Agar mere maa ke hatho me hota
Mere bhagya ka kalam
To mere hisse me
Dukh dard nahi na hota
अगर मेरे माँ के हाथों मे होता
मेरे भाग्य का कलम
तो मेरे हिस्से में
दुःख दर्द ना होता
Daawa karata hai insane
Ki mai karata hu apani maa 
Se Jyada pyaar
Agar aisa ho to duniya me
Ek bhi bridhashram na hota
दावा करता है इन्सान
कि मैं करता हुँ अपनी माँ
से ज्यादा प्यार
अगर ऐसा हो तो दुनिया में
एक भि बृध्दासरम ना होता
Ladkiyo ke aage 
Maa – baap na ko bhulana
Khud tut jaana Lekin
Maa- baap ka dil na dukhana
लडकियों के आगे
माँ बाप को न भूलाना
खुद टुट जाना लेकिन 
माँ बाप का दिल न दुखाना
Apane pariwar ka pet
Bharane ke liye WO
Khud bhukha rehata hai
Jo sehata hai har dard
Fir bhi muskara deta hai
अपने परिवार का पेट
भरने के लिये वो
खुद भूखा रहता है
जो सहता है हर दर्द
फिर भी मुस्कुरा देता है
Jisake hone se mai khud
Ko mukammal manata hu
Mai rab se bhi bada 
apani maa Ko manata hu
जिसके होने से मै खुद
को मुकम्मल मानता हूँ
मै रब से भी बड़ा
अपनी माँ को मानता हँ
Kahi ho na jaye ghar ki musibat
Ladko ko malum
Chhupa kar taklif tera muskuaran
Yaad aata hai
Jb hum chhod aaye the 
Pradesh Me tujhe
Mejhe tera bahut Rona 
Yaad aata hai
कही हो न जाये घर की मूसीबत
लडको को मालूम
छुपाकर तकलीफ तेरा मुस्कुराना
याद आता है
जब हम छोड आये थे परदेश में तुझे
मुझे तेरा बहुत रोना याद
आता है |
दुनिया नें आपको हर चिज 
दुबारा मिल सकती है
बस एक माँ ही ऐयी चिज है
एक बार खोने के बाद
कभी ना मिलती
Bhgwan har jagah nahi reh sakata
Isliye usane sabako diya ek maa
Jo har jiw ke liye bhagwan se bhi Badi hai
भगवान हर जगह नही रह सकता
इसलिए उसने सबको दिया एक माँ
जो हर जीव के लिए भगवान से भी बड़ी है
ये थी हमारी माँ शायरी आप हमे कमेन्ट बॉक्स मे जरूर बताइयेगा आपको हमारी शायरी कैसी लगी |
वैसे अच्छी तो लगी ही होगी क्याेंकि हमारी शायरी माँ पर और आप सभी अपनी माँ से बहुत प्यार करते होंगे
और करना भी चाहिए क्योकि माँ ही जीवन है |
RELATED ARTICLES
- Advertisment -