HomeRahat-Indori-Shayari-HindiBest 50+ Rahat indori shayri in hindi | राहत इंदौरी शायरी हिंदी...

Best 50+ Rahat indori shayri in hindi | राहत इंदौरी शायरी हिंदी 4 लाइन !

Rahat indori shayri in hindi

हेलो दोस्तो स्वागत है आपका हमारे नये पोस्ट में, दोस्तो हमने इस पोस्ट में राहत इंदौरी जी द्वारा लिखी कुछ शायरी साझा की है जैसे कि Rahat Indori shayari 2 line, Rahat indorishayari hindi, राहत इन्दोरी शायरी 2 लाइन  इत्यादि| हम आशा करते हैं कि अपको हमारा पोस्ट बहुत पसंद आयेगा |

Rahat Indori shayari image 2 line
नदी ने धुप से कह दिया रवानी में 
उजाले पाँव पटकने लगे है पानी में 
अब इतनी सारी सबों का हिसाब कौन रखेगा
बड़े सवाब कमाये गये जवानी में
 Nadi ne dhoop se kah diya rawani me
Ujale paaw patakne lage hai Pani me
Ab itani saari sabai ka hisab kaun rakhe
Bade sawab kamaye Gaye jawani me

Rahat indori 2 line shayari

Rahat Indori shayari image
इश्क ने गुथे गजरे नुकिले हो गए 
तेरे हाथो में तो ये कंगन भी ढीले हो गए 
फूल बेचारे अकेले रह गए साख पर 
गाँव के सब तितलियों के हाथ पीले हो गए 
Ishq ne guthe jo gajare nukile ho gaye
Tere hatho me to ye kangan bhi dheele ho gaye
Phool bechare akele rah gaye saakh par
Gaw ke sab titaliyon ke hath pile ho gaye

राहत इंदौरी शायरी हिंदी 4 लाइन

ख़ाक से बढ़कर कोई दौलत नहीं होता 
छोटी मोती बातों पे हिजरत नहीं होती 
पहले दीप जले तो चर्चे होते थे 
अब शहर जले तो हैरत नहीं होती 
Khaak se badhkar koi daulat nahi hoti
Chhoti moti baato pe hijarat nahi hoti
Pahale deep jale to charche hote the
Ab shahar jale to hairat nahi hoti

Love shayari rahat indori

Rahat Indori shayari image
जवान आँखों  के जुगनू चमक रहे होंगे
अब अपने गाँव में अमरुद पक रहे होंगे 
भुला मुझको मगर मेरी उँगलियों के निशान 
तेरे बदन पे भी अभी तक चमक रहे होंगे 
Jawan ankho ke juganu chamak rahe honge
Ab apane gaw me amrud Pak rahe honge
Bhula mujhako magar meri ungliyo ke nishan
Tere badan pe abhi tak chamak rahe honge
अन्दर का ज़हर चूम लिया धुल के आ गए 
कितने सरीफ थे लोग खुल के आ गए 
Andar ka zahar chum liya dhul ke aa gaye
Kitane sarif the log khul ke aa gaye

rahat indori shayari 2 line

बोतल खोल कर तो पिए बरसो 
अज दिल खोल कर भी पियेंगे 
Botale khol kar to piye barso
Aj dil khol kar bhi piyenge

Rahat indori shayari on love

Rahat Indori shayari image
दोस्ती जब किसी से की जाये तो 
दुश्मनों की भी राय ली जाये 
मौत का ज़हर है फिजाओ में 
अब कहा जा केसांस ली जाए
Dosti jab kisi se ki jaye to
Dusmano ki bhi raay li jaye
Maut ka zahar hai fijao me 
Ab kaha ja ke saans li jaye

Rahat indori ke sher

मेरे खालिद की गहराई से नहीं मिलते 
ये झूठे लोग है सच्चाई से नहीं मिलते 
मोहब्बत का सबक दे रहे है दुनिया को 
जो ईद अपने सगे भाई से नहीं मिलते 
 
Mere Khalid ki gahrai se nahi milate
Ye jhoothe log hai sachchai se nahi milate
Mohabbat ka sabak de rahe hai duniya ko
Jo ed apane sage bhai se nahi milate

Rahat indori famous shayari

कभी महक की तरह हम गुलो से उड़ते है 
कभी धुएं की तरह पर्बतों से उड़ते है 
ये कैचियां हमें उड़ने से ख़ाक रोकेंगी 
के हम पैरो से नहीं हौसलों से उड़ते है 
Kabhi mahak ki tarah ham gulo se udate hai
Kabhi dhuye ki tarah parbato se udate hai
Ye kaichiya hame udane se khaak rokengi
Ke ham pairo se nahi hausalo se udate hai

 Shayri rahat indori

Rahat Indori shayari image
अब ना मै हूँ ना बाकी ज़माने मेरे 
पाँव फैलाये अंधेरो के दिए कहते है 
उनका अंजान तुझे याद नहीं है सायद
और भी लोग थे खुद को खुदा कहते थे 
Ab na mai hu na baaki jamane mere
Paaw failaye andhero ke diye kahate hai 
Unaka anjam tujhe yaad nahi hai sayad
Aur bhi log the khud ko khuda kahate the 

Love shayari rahat indori

Rahat Indori shayari image
शहर क्या देखे की , हर मंजर में जाले पड़ गए  
मै अंधेरो से बचा लाया था , अपने आप को 
मेरा दुःख ये है कि, मेरे पीछे उजाले पड़ गए 
Shahar kya dekhe ki
Har manjar me jaale pad gaye
Mai andhero se bacha laya tha
Apane aap ko 
Mera dekh ye hai ki
Mere pichhe ujale pad gaye

 Rahat indori shayri on love

महकती रात की लम्हों , नजर रखो मुझ पर 
बहाना ढूढ़ रहा हूँ , उदास होने का 
मै तेरे पास बता किस , गरज से आया हूँ 
सबूत दे मुझे चहरे , शनास होने का 
Mahakti raat ki lamho 
Najar rakho mujh par
 Bahana dhudh raha hu
Udaas hone ka
Mai ter paas bata kis
Garaj se aya hu 
Sabut de mujhe chehara
shanas hone ka

Pages  2  3  4  5 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -